Google ka malik kaun hai Google किस देश की कंपनी है?

आज इस लेख में आप जानेंगे कि Google ka malik kaun hai Google किस देश की कंपनी है? आज के इंटरनेट की दुनिया में गूगल का इस्तेमाल हर कोई करता है। अगर आपको कोई जानकारी चाहिए तो आप गूगल पर ही सर्च करते हैं। गूगल दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है, आप जिस एंड्राइड फोन का इस्तेमाल करते हैं वह भी गूगल का ही एक उत्पाद है और इसके अलावा साल 2020-21 तक जीमेल, प्ले स्टोर, गूगल मैप्स और गूगल ड्राइव सभी गूगल की सेवाएं हैं।

Google के अनुसार, दुनिया भर में होने वाली 90% से अधिक इंटरनेट खोजें अकेले Google में की जाती हैं। अगर भारत की बात करें तो यह आंकड़ा 98 फीसदी है। ऐसे में कई लोग रोजाना गूगल का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता है कि Google ka malik kaun hai Google किस देश की कंपनी है? तो चालिए जानते हैं कि Google ka malik kaun hai Google किस देश की कंपनी है?

Google ka malik kaun hai 2022

लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन, इन दोनों ने मिलकर करीब 23 साल पहले 4 सितंबर 1998 को एक निजी कंपनी के रूप में Google की शुरुआत की थी। अगर कहा जाए कि इन 23 सालों में गूगल ने इंटरनेट की दुनिया पर राज किया है तो शायद गलत नहीं होगा। लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन दोनों की मुलाकात 1995 में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुई थी, जिसके बाद इनकी दोस्ती हो गई, इनके मन में पढ़ाई के साथ-साथ एक अलग बिजनेस शुरू करने का आइडिया आया, जिसके बाद इन्होंने गूगल में अपना काम शुरू किया।

इसके बाद साल 1998 में उन्होंने गूगल को लॉन्च किया। बहुत से लोग Google के मालिक के बारे में जानना चाहते हैं। तो बता दें कि साल 2004 में ब्रिन और पेज ने गूगल को सार्वजनिक किया था। यानी Google का कोई एक मालिक नहीं है, बल्कि कई शेयरधारक हैं।

गूगल में शेयरहोल्डिंग को समझने के लिए यह जानना भी बहुत जरूरी है कि साल 2015 में गूगल ने अपनी एक पैरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक का अधिग्रहण कर लिया और अपने सारे प्रोजेक्ट्स को अपने अधीन कर लिया। Google के स्वामित्व और संबंधित निर्णय अब Alphabet की संरचना के अनुसार किए जाते हैं। Google के पास अब दो वर्गों के शेयर हैं – A और C। क्लास A के शेयरधारकों के पास वोटिंग अधिकार हैं जबकि क्लास C के शेयरधारकों के पास नहीं है। कुछ लोगों को बी क्लास में भी रखा गया है। इन लोगों के पास 10-10 वोट हैं और वे बाजार में व्यापार नहीं कर सकते।

हाल की बात करें तो लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन के पास गूगल के सबसे ज्यादा शेयर हैं, सबसे ज्यादा शेयर होने के कारण गूगल के मालिक लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन हैं। ये दोनों दुनिया के सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक 2018 में लैरी पेज की कुल संपत्ति 50.6 अरब डॉलर थी, जबकि सर्गेई ब्रिन की संपत्ति 49.9 अरब डॉलर थी। Google कंपनी हर दिन बहुत तेजी से आगे बढ़ रही है जिससे कहा जा सकता है कि आने वाले समय में यह दुनिया की सबसे बड़ी company बन सकती है।’

Google ka malik kaun hai

गूगल किस देश की कंपनी है

Google एक अमेरिकी बहुराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी कंपनी है। जो अधिकांश इंटरनेट से संबंधित सेवाओं और उत्पादों जैसे ऑनलाइन विज्ञापन तकनीक, क्लाउड कंप्यूटिंग, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर और सर्च इंजन बनाती है, जिसमें यह सबसे प्रसिद्ध है।

Google के संस्थापक लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन भी अमेरिका के नागरिक हैं, Google का मुख्यालय कैलिफोर्निया, अमेरिका में स्थित है। Google के भारत में बैंगलोर, हैदराबाद, मुंबई और गुड़गांव में कार्यालय हैं। आपको बता दें कि इस समय गूगल में 1 लाख से ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे हैं।

गूगल का फुल फॉर्म क्या है

जैसा कि हम जानते हैं कि Google एक गलत स्पेलिंग है और इसे गूगोल शब्द से कॉपी किया गया था। लेकिन फिर भी कुछ लोगों के मन में यह समस्या रहती है कि गूगल का Full Form क्या है?

अगर आपके मन में भी यह सवाल है कि गूगल का पूरा नाम क्या है तो हम बता दें कि कोई सही फुल फॉर्म नहीं है, लेकिन इंटरनेट पर सर्च करने पर पता चलता है कि “Global Organization of Oriented Group Language of Earth” तो अगर आपसे कोई पूछे कि Google का Full Form क्या है तो आप इसका जवाब कुछ इस तरह दे सकते हैं।

गूगल के सीईओ कौन है

गूगल के वर्तमान सीईओ सुंदर पिचाई हैं। सुंदर पिचाई 2 अक्टूबर 2015 से Google के CEO हैं। सुंदर पिचाई वर्ष 2004 में उत्पाद विकास के प्रमुख के रूप में Google में शामिल हुए, जिसके बाद पिचाई ने Google के कई महत्वपूर्ण पदों पर काम किया और वर्ष 2015 में Google के CEO बनाए गए।

सुंदर पिचाई, कंपनी अल्फाबेट के सीईओ भी बने, भारतीय मूल के एक अमेरिकी भारतीय व्यापार कार्यकारी हैं। सुंदर पिचाई का जन्म 10 जून 1972 को तमिलनाडु के एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था। पिचाई ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई IIT खड़कपुर से पूरी की, जिसके बाद पिचाई को अमेरिका में स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप मिली, जहां उन्होंने मास्टर ऑफ साइंस (MS) की पढ़ाई पूरी की।

Google के सबसे अधिक शेयर किसके पास हैं

सबसे ज्यादा शेयर की बात करें तो लैरी पेज के पास फिलहाल सबसे ज्यादा शेयर हैं। उनके पास क्लास ए के 19.9 मिलियन शेयर हैं। और 20 मिलियन सी क्लास शेयर, वह अल्फाबेट के सीईओ हैं, 2015 में सुंदर पिचाई के सीईओ बनने के बाद उनकी अधिकांश जिम्मेदारियां उन्हें स्थानांतरित कर दी गई हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, 2018 में लैरी पेज की कुल संपत्ति $ 50.6 बिलियन थी, उसके बाद लैरी पेज थे। सबसे अधिक शेयरों के साथ, अल्फाबेट के अध्यक्ष सर्गेई ब्रिन के पास 19.3 मिलियन क्लास सी शेयर और 18,400 क्लास ए शेयर हैं। उनकी कुल संपत्ति 49.9 अरब डॉलर है।

एरिक श्मिट, 10 वर्षों के लिए Google के सीईओ, 2011 में अल्फाबेट के कार्यकारी अध्यक्ष बने। उन्होंने 2017 में उस पद को भी छोड़ दिया। श्मिट के पास सीधे 38,166 क्लास ए शेयर, 1,287,765 क्लास सी कैपिटल शेयर, 10,983 क्लास सी गूगल शेयर और 10,983 क्लास ए गूगल हैं। शेयर। उनके पास फैमिली ट्रस्ट के माध्यम से 2.4 मिलियन क्लास सी कैपिटल शेयर, 42,806 क्लास सी कैपिटल शेयर और 74,361 क्लास ए शेयर हैं।

श्मिट की कुल संपत्ति 13.7 अरब डॉलर है। गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई के पास 857 क्लास ए शेयर, 8,844 क्लास ए गूगल शेयर, 117,479 क्लास सी कैपिटल शेयर और 85,415 क्लास सी गूगल शेयर हैं। दूसरी ओर, जॉन के पास 3,485 क्लास ए शेयर और 5,027 क्लास सी कैपिटल शेयर हैं। उनके पास ट्रस्ट के माध्यम से 909,459 क्लास सी कैपिटल शेयर और 118,653 क्लास ए शेयर भी हैं।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों आज के इस लेख में आपने जाना कि Google ka malik kaun hai Google किस देश की कंपनी है? अगर अआपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी पसंद आती है तो कृपया इसे अन्य लोगों तक भी शेयर करें।

Manshu Sinha

Manshu Sinha

Hello friends, Review Hindi is a News and Review site that Reviews all things like movies, tech products in Hindi. Manshu Sinha is the Founder of this Site, who is a professional Hindi blogger, content creator, digital marketer and graphic designer.

Articles: 298

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *