Motorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है? (5 Facts)

नमस्कार दोस्तों स्वागत हैं आपका हमारे इस नए लेख में आज हम आपको बताएंगे कि आखिर Motorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है? दोस्तों अगर आप यह विस्तार से जानना चाहते हैं कि Motorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है? तो यह लेख पूरा पढ़ें।

आज इस लेख में आप जानेंगे कि Motorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है Motorola भारत की एक लोकप्रिय स्मार्टफोन कंपनी है। वर्तमान समय में भारत के लोग मोटोरोला फोन का अधिक उपयोग करते हैं, जिसके कारण मोटोरोला भारत में एक बड़ी और लोकप्रिय स्मार्टफोन कंपनी है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि मोटोरोला के मोबाइल की अच्छी क्वालिटी के साथ-साथ इस कंपनी की सेवाएं भी काफी बेहतर हैं। मोटोरोला कंपनी न केवल मोबाइल बनाती है बल्कि सभी इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्रों के लिए भी उपलब्ध है।

मोबाइल फोन बनाने के अलावा, मोटोरोला कंपनी मोबाइल फोन, वायरलेस ब्रॉडबैंड नेटवर्क, कंप्यूटर, आरएफआईडी सिस्टम, टैबलेट, नेटवर्किंग सिस्टम, टीवी, स्मार्टफोन और केबल टेलीविजन सिस्टम भी बनाती है। आपने भी कभी न कभी मोटोरोला का फोन इस्तेमाल किया ही होगा।

आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि Motorola किस देश की कंपनी है? ज्यादातर लोग सोचते हैं कि यह एक भारतीय कंपनी है। लेकिन यह कंपनी भारत की नहीं है। आइए जानते हैंMotorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है?

Motorola kaha ki company hai

मोटोरोला अमेरिका की एक बहुराष्ट्रीय दूरसंचार कंपनी है। इसका मुख्यालय शांबुर्ग, इलिनोइस, नैनो में स्थित है। मोटोरोला कंपनी की स्थापना 25 सितंबर 1928 को हुई थी। शुरुआत में यह कंपनी बैटरी एलिमिनेटर बनाती थी, जिसके बाद कंपनी ने रेडियो और स्मार्टफोन बनाना शुरू किया।

1984 में मोटोरोला ने दुनिया का पहला पोर्टेबल फोन बनाया, जिसे लोगों ने खूब पसंद किया और इसकी लोकप्रियता में इजाफा हुआ। मोटोरोला कंपनी की स्थापना पॉल गैल्विन और जोसेफ गैल्विन नाम के दो अमेरिकी व्यक्तियों ने की थी।

शुरुआत में मोटोरोला कंपनी का नाम पॉल गैल्विन और जोसेफ गैल्विन भी था लेकिन फिर कुछ दिनों बाद इस कंपनी का नाम बदलकर मोटोरोला कर दिया गया। मोटोरोला को गूगल कंपनी ने साल 2012 में खरीद लिया था लेकिन किसी कारणवश गूगल ने इसे साल 2014 में चीन की कंपनी लेनोवो को बेच दिया था।

लेकिन आज तक मोटोरोला को एक अमेरिकी कंपनी के रूप में मान्यता प्राप्त है, जबकि इस कंपनी का स्वामित्व चीन की तकनीक के क्षेत्र में एक प्रसिद्ध कंपनी लेनोवो के पास है। इस तरह हम कह सकते हैं कि Motorola एक चीनी कंपनी है। Motorola कंपनी के उत्पाद पूरी दुनिया में बेचे जाते हैं। मोटोरोला कंपनी में 53 हजार से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं।

Motorola का मालिक कौन है

Motorola कंपनी के मालिक पॉल और जोसेफ गैल्विन हैं। उन्होंने 25 सितंबर 1928 को मोटोरोला कंपनी की स्थापना की। इसके अलावा पॉल कार रेडियो के लिए भी जाने जाते हैं। पॉल और जोसेफ गैल्विन के अलावा, कंपनी में 4 अन्य प्रमुख व्यक्ति हैं। ब्रायन लोपेज, गीनो बोनानोट, शमिक मुखर्जी, महेश सप्तर्षि, पॉल का जन्म 29 जून, 1895 को हार्वर्ड, इलिनोइस में हुआ था। मोटोरोला के सीईओ ग्रेग ब्राउन हैं और वह मई 2011 से इस पद पर कार्यरत हैं।

मोटोरोला कंपनी के सीईओ कौन हैं

मोटोरोला के सीईओ ग्रेग ब्राउन हैं और वह मई 2011 से इस पद पर कार्यरत हैं।

मोटोरोला कंपनी क्या-क्या बनाती है

Motorola कंपनी के सभी यूजर्स यही सोचते हैं कि यह कंपनी स्मार्टफोन बनाती है लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है। यह कंपनी बहुत कुछ बनाती है। आइए जानते हैं मोटोरोला की कौन सी कंपनी और कौन से प्रोडक्ट बनते हैं।

  • Mobile Phones
  • Televisions
  • Tablet
  • Computers
  • Broadband Networks
  • Smart Phones
  • Cable Television Systems
  • Intergrated Circuits
  • RFID Systems

मोटोरोला कंपनी का इतिहास

मोटोरोला कंपनी की शुरुआत पॉल गैल्विन और जोसेफ गैल्विन ने मिलकर की थी, पहले इस कंपनी में कुल 5 लोग काम करते थे। इस कंपनी द्वारा इसका पहला इलेक्ट्रिक उत्पाद बैटरी एलिमिनेटर था। इस उत्पाद के बनने के बाद जब इसे इस बाजार में उतारा गया तब यह उत्पाद लोगों को बहुत कम पसंद आया। और फिर इसके बाद इस कंपनी ने फिर से मोटोरोला के नाम से एक नए उत्पाद रेडियो का निर्माण किया।

यह रेडियो लोगों को बहुत पसंद आया और देखते ही देखते यह कंपनी लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हो गई। दुनिया का पहला मोबाइल फोन मोटोरोला ने बनाया था, जिसका नाम डायना टीएसी 8000X था।

इस कंपनी की स्थापना अमेरिका में ही 25 सितंबर 1928 को हुई थी। लेकिन यह कंपनी अपने कारोबार को ज्यादा नहीं बढ़ा पाई और घाटे में चली गई। कंपनी के नुकसान के कारण, 4 जनवरी 2011 को यह 2 अलग-अलग कंपनियों मोटोरोला सॉल्यूशंस और मोटोरोला मोबिलिटी में विभाजित हो गया।

वर्तमान में, Zebra Technogies जो कि एक संयुक्त राज्य की कंपनी है, ने Motorola Solutions कंपनी को खरीदा है, लेकिन Motorola Mobility Company को एक चीनी कंपनी Lenovo ने खरीदा है। फिलहाल मोटोरोला सॉल्यूशंस कंपनी के सीईओ सर्जियो बुनियाक हैं। और मोटोरोला मोबिलिटी कंपनी के सीईओ ग्रेग ब्राउन हैं।

तो अब आप जान ही गए होंगे किMotorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है इस Motorola एक चीनी देश की कंपनी है। Motorola कंपनी का मुख्यालय Schaumburg, इलिनोइस, Naino में है। मोटोरोला की स्थापना 25 सितंबर 1928 को हुई थी।

मोटोरोला कंपनी के बारे में रोचक तथ्य

  • नील आर्मस्ट्रांग चाँद पर पहुँचे और मोटोरोला रिसीवर के माध्यम से पृथ्वी पर एक संदेश भेजा
  • मोटोरोला ने केवल 5 कर्मचारियों के साथ शुरुआत की और विकिपीडिया के अनुसार 2010 में इस कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या बढ़कर 53,000 हो गई
  • 1930 में गैल्विन मैन्युफैक्चरिंग कॉर्पोरेशन का नाम बदलकर मोटोरोला कर दिया गया। बोलने और लिखने में आसान
  • 1930 में, कंपनी ने दुनिया की पहली कार रेडियो का निर्माण किया। और 1940 में इस कंपनी ने दुनिया का पहला वॉकी टॉकी बनाया।
  • मोटोरोला को गूगल ने 2011 में खरीद लिया था और बाद में गूगल ने इसे लेनोवो को बेच दिया था।

आज आपने क्या सीखा?

तो दोस्तों अब आप जान ही गए होंगे कि Motorola kaha ki company hai और Motorola का मालिक कौन है अगर आपको मेरे द्वारा दिया गया यह जानकारी पसंद आता है तो कृपया इसे अन्य लोगों तक भी शेयर करें।

Leave a Comment

error: Content is protected !!